भारतीय स्टेट बैंक में न्युनतम राशि न होने पर खाताधारकों को देना होगा जुर्माना

नई दिल्ली । भारतीय स्टेट बैंक अॉफ इंडिया के खाताधारकों को अपने खाते में न्युनतम राशि नहीं रखने पर जुर्माना देना होगा । अलग-अलग क्षेत्रों लिए अलग-अलग न्युनतम राशि तय किया गया है ।
1 अप्रेल से स्टेट बैंक के कई नियमों में परिवर्तन हो जान के कारण एसबीआई खाताधारकों के लिए अब खर्चीला हो गया है । खाताधारकों को बैंक में अपना खाता रखने के लिए न्युनतम बैलेंस मेनटेन करना आवश्क कर दिया गया है किन्तु अलग-अलग क्षेत्रों के शाखा के अनुसार न्युनतम राशि भी अलग-अलग है । मिनिमम बैलेंस नहीं मेनटेन करने पर खाताधारकों से सेवा कर (सर्विस टैक्स) साथ जुर्माना भी देना होगा । भारतीय स्टेट बैंक के नए नियम के अनुसार मैट्रो शहरों के खाताधारकों का न्यूनतम बैलेंस 5000, शहरी क्षैत्रों के खाताधारकों का न्यूनतम बैलेंस 3000, अर्द्ध-शहरी क्षेत्रों के खाताधारकों का न्यूनतम बैलेंस 2000 और ग्रामीण क्षेत्रों के खाताधारकों का न्यूनतम बैलेंस 1000 रूपये तय किया गया है । न्यूनतम बैलेंस नहीं होने की स्थिति में कितना प्रतिशत कमी है इसी के अनुसार जुर्माना और टैक्स देना होगा ।
एसबीआई अपने खाताधारकों को अपने हीं बैंक से पाँच और किसी अन्य बैंकों एटीएम से तीन बार फ्री ट्रांजेक्शन का छूट देता इससे ज्यादा होने पर अपने बैंक के लिए 10 रूपये तथा अन्य के लिए 20 रूपये शुल्क के रूप में बैंक को देना होगा । खाताधारकों को अपने बचत खाता में तीन बार रूपया जमा करा सकते है किन्तु उसके बाद जमा कराने पर चार्ज देना होगा ।

Please follow and like us:

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enjoy this blog? Please spread the word :)